किसान आंदोलन की बढ़ती समस्या पर अभय चौटाला ने अपने इस्तीफे की घोषणा की, 26 जनवरी तक कृषि कानून वापस नही लिया तो छोड़ देगे आईएनएलडी का पद

Must Try

इंडियन नेशनल लोकदल (INLD) के प्रधान महासचिव अभय चौटाला ने कृषि कानूनों के विरोध में अपने इस्तीफे की घोषणा की है। उन्होंने एक अल्टीमेटम दिया है कि अगर केंद्र सरकार 26 जनवरी तक तीनों कृषि कानूनों को वापस नहीं लेती है, तो वह किसानों के समर्थन में 27 जनवरी को हरियाणा विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे देंगे।

ये भी पढे -  Janmashtami 2020- जन्माष्टमी पर ‘कृष्ण कन्हैया’ को भोग लगाने के लिए मथुरा के पेड़े बनाएं, इस सीक्रेट Recipe से करे तैयार

अभय चौटाला किसानों के समर्थन में बहादुरगढ़ के जखौदा बाईपास पर पहुंचे। इस दौरान उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि वह राज्य भर में भाजपा सरकार के कृषि कानूनों और नीतियों के खिलाफ गांव से जागरूकता अभियान चलाएंगे। कानूनों को लागू करने से पहले, केंद्र सरकार ने किसान संगठनों से राय लेना जरूरी नहीं समझा।

government-should-show-seriousness-on-farmers-demands-abhay-chautala_423103

अभय चौटाला ने कहा कि सरकार पूंजीपतियों को फायदा पहुंचाने के लिए जीएसटी में संशोधन कर सकती है, लेकिन किसानों की मांग के बावजूद कृषि कानूनों को रद्द नहीं किया जा रहा है। सरकार किसानों के साथ गलत कर रही है और मैं इसके खिलाफ हूं। अगर सरकार किसानों की बात नहीं मानती है, तो मैं पद छोड़ दूंगा और उनके साथ धरने पर बैठूंगा।

ये भी पढे -  No Time to Die Full Movie Download HD And Watch Online 1080p Hindi Dubbed Leaked Bollyshare and RDXHD
ये भी पढे -  संसद भवन मे केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह तस्वीर दिखा कर बोले मे नही नेहरू और राजीव गांधी बैठे थे टैगोर की कुर्सी पर
- Advertisement -
- Advertisement -

Latest Recipes

ये भी पढे -  शिवसेना ने बीजेपी-नीतीश पर साधा निशाना, कहा- अमेरिका ने 4 साल में की गलती, बिहार में दिखे ऐसे ही लक्षण

13 April 2021 Love and Business Rashifal (Horoscope in Hindi)- मंगलवार 13 अप्रैल 2021, लव लाइफ और बिज़नस राशिफल

- Advertisement -

More Recipes Like This

- Advertisement -
Khabari Londa