उत्तर मध्य भारत मे भीषण गर्मी का अलर्ट, ये फल है ‘लू’ से बचाव मे सहायक

0
4
weather-Alert-Heat_wave

उत्तरी और मध्य भारत मे भयंकर गर्मी पड़नी शुरू हो गयी है भारत के कई हिस्से तेज गर्मी से परेशान है देश के मध्य प्रदेश, राजस्थान, दिल्ली और छतीसगढ़ जैसे 9 राज्यों में लू (Heat Wave) चलने से लोग परेशान है इन राज्यों मे तापमान 40 से 46 डिग्री तक पहुँच गया है, दिन निकालने के साथ ही गर्मी अपना असर दिखाना शुरू कर रही है।

ऐसे समय इन राज्यों मे अधिकांश जगह लॉकडाउन के कारण बाज़ार 10 बजे से 5 बजे तक खुल रहे है जिसके कारण लू लगने का खतरा भी बढ़ रहा है आज हम आपको बता रहे है उन चीजों के बारे मे जो लू से बचाव करते है-

ये भी पढे -  आयुर्वेदिक इम्युनिटी बूस्टिंग टिप्स- 'तुलसी का दूध' इम्युनिटी स्ट्रॉन्ग ही नहीं इन बीमारियों मे भी है फायदेमंद, जानिए कैसे बनाएं

प्याज ‘लू’ से बचाव के लिए

Onion-Heat-Wave

अगर आप लू लगने की समस्या से परेशान है तो ऐसे में रोजाना प्याज का सेवन या  प्याज के रस का सेवन करना चाहिए और इसके अलावा पैर के तलवों पर भी प्याज का रस लगाने से काफी राहत मिलती है। प्याज शरीर को शीतलता भी देता है और लू का असर भी काफी हद तक कम हो जाता है।  राजस्थान मे कहावत है की बाहर निकलते समय अपनी जेब में एक प्याज रख लेना चाहिए इससे लू नही लगती है।

कच्चा आम या कैरी ‘लू’ से बचाव के लिए

raw-mango

गर्मियों में लू से बचाव के लिए भी कच्चे आम (कैरी) का सेवन बहुत फायदेमंद माना जाता है., लू से बचाव के लिए कच्चे आम का पन्ना (जूस)का सेवन करने की सलाह दी जाती है। कच्चे आम के सेवन से गर्मियों में शरीर में पानी की आपूर्ति भी की जा सकती है। इसके साथ ही कच्चा आम शरीर मे रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में काफी मददगार साबित होता है। कैरी के सेवन से शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाया जा सकता है और शरीर को स्वस्थ बनाया जा सकता है।

ये भी पढे -  प्याज के भाव नही छुएंगे आसमान, मोदी सरकार ने कर दिया इलाज

नोट- गर्मियों मे तेज धूप मे अगर बाहर निकालना पड़े तो खाली पेट कभी न निकले कुछ खा कर ही घर से निकले, शरीर मे पानी की कमी ना हो इसके लिए बाहर जाने से पहले पानी पी कर जाये, बाहर से आने के तुरंत बाद पानी न पिये 5 10 मिनट रुक कर शरीर का तापमान सामान्य होने पर ही पानी का सेवन करे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here