धारा 370 खात्मे का एक साल: रम्यसा रफीक ने अलगाववाद और आतंकवाद के गढ़ लाल चौक पर लहराया तिरंगा, जानिए कौन हैं ये

0
26
Lal-Chauk

जम्मू और कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाने को आज 5 अगस्त 2020 को एक साल पूरा हो गया है। इन 365 दिनों में जम्मू-कश्मीर में जो कुछ बदला है, उसकी भी तस्वीर है। देश का तिरंगा अनंतनाग के लाल चौक पर निडरता के माहौल में फहराया गया, जो कभी आतंक और अलगाववाद का गढ़ बन गया था। बीजेपी कार्यकर्ता रम्यसा रफीक की ये तस्वीरें सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही हैं। रम्यसा अपने हाथों में तिरंगा लेकर बुधवार सुबह लाल चौक पहुंची और यहां काफी देर तक तिरंगा लहराती रहीं।

rumysa_rafiq_national_flag_lal_chowk

पिछले साल 5 अगस्त को केंद्र सरकार ने जम्मू-कश्मीर से धारा 370 को बेअसर कर अलागवाद की जड़ें काट दी थीं। अनंतनाग के लाल चौक पर अलगाववादियों ने पथराव कर उन्हें भड़काया। लेकिन पिछले एक साल में, इन घटनाओं में नाटकीय रूप से कमी आई है। सभी बड़े अलगाववादियों का व्यवसाय नष्ट हो गया है। सुरक्षा बलों ने भी आतंकवाद पर हमला किया है और इस साल कई बड़े आतंकवादी मारे गए।

ये भी पढे -  18 August 2020 Love & Business Rashifal (Horoscope in Hindi) मंगलवार 18 अगस्त लव लाइफ और बिज़नस राशिफल
Lal-Chauk

सुरक्षा बल से जुड़े एक अधिकारी के अनुसार, घाटी के बड़े हिस्से में एक बड़ा बदलाव यह महसूस किया जा रहा है कि स्थानीय लोग आतंकवाद पर कार्रवाई का विरोध नहीं करते हैं। बुरहान वानी की तरह, आतंकवादियों को हीरो बनाने का चलन कम हो गया है। पहले पुलिस की गाड़ी देखते ही पत्थर फेंकने की घटनाएं हुईं। पुलिस प्रशासन के दावों के अलावा, स्थानीय लोगों का भी मानना ​​है कि ये घटनाएं कम हुई हैं।