आयुर्वेदिक इम्युनिटी बूस्टिंग टिप्स- ‘तुलसी का दूध’ इम्युनिटी स्ट्रॉन्ग ही नहीं इन बीमारियों मे भी है फायदेमंद, जानिए कैसे बनाएं

0
8
tulsi-milk

आयुर्वेदिक इम्युनिटी बूस्टिंग टिप्स– आयुर्वेद में, तुलसी के पत्तों को औषधीय गुणों से भरपूर माना जाता है। तुलसी के पत्तों का सेवन करने से व्यक्ति घर बैठे ही कई बीमारियों से छुटकारा पा सकता है। कोरोना महामारी के दौरान, लोग तुलसी के पत्तों का काढ़ा बनाकर अपनी प्रतिरक्षा बढ़ाने की कोशिश कर रहे हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि अगर तुलसी के पत्तों को दूध में उबालकर पिया जाए तो कई बीमारियों से छुटकारा मिल जाता है। इससे पहले कि आप स्वास्थ्य लाभ पाने के लिए तुलसी का दूध बनाएं, इसे बनाने का सही तरीका और पीने का सही समय भी जानें, ताकि आपको तुलसी और दूध के सभी लाभ मिल सकें।

कैसे करें सेवन-

Tulsi ka dudh

तुलसी का दूध बनाने के लिए, आपको पहले डेढ़ गिलास दूध उबालना होगा। दूध को उबालने के बाद उसमें 8 से 10 तुलसी के पत्ते डालकर उबालें। जब दूध एक गिलास के बारे में रह जाए, तो गैस बंद कर दें। अब को दूध हल्का गुनगुना होने तक इंतजार करे , हल्का गुनगुना हो गया तो इसका सेवन करें। याद रखें कि इस दूध के नियमित सेवन से आपकी इम्युनिटी स्ट्रॉंग हो जाएगी और आप कई बीमारियों से दूर रहेंगे।

ये भी पढे -  कोरोनिल लॉन्च होते ही घिरा सवालो के घेरे मे, क्या होगा पतंजलि का जवाब देखिए

आयुर्वेदिक इम्युनिटी बूस्टिंग टिप्स – तुलसी वाला दूध किन बीमारियों से लड़ने में मदद करता है-

tulsi-milk

सिरदर्द या माइग्रेन से राहत-

तुलसी की पत्तियों को दूध में उबालकर पीने से सिरदर्द या माइग्रेन की समस्या ठीक हो जाती है। अगर आप लंबे समय से इस समस्या से परेशान हैं, तो चाय की बजाय रोजाना दूध में तुलसी के पत्ते डालकर पिएं।

तनाव और अवसाद से राहत –

तुलसी के पत्तों में न केवल औषधीय गुण होते हैं बल्कि इन पत्तियों में हीलिंग गुण भी होते हैं। अगर आप भी ऑफिस टेंशन या पारिवारिक कलह के कारण डिप्रेशन जैसी समस्याओं से घिरे हैं, तो तुलसी के पत्तों को दूध में उबालकर पिएं। ऐसा करने से अवसाद की समस्या को दूर करने में मदद मिलती है।

ये भी पढे -  पतंजलि: योग गुरु बाबा रामदेव आज लॉन्च करेंगे ‘कोरोनील टैबलेट’

इम्युनिटी बढ़ाने में मदद-

आज, कोरोना महामारी के युग में, प्रत्येक व्यक्ति अपनी प्रतिरक्षा बढ़ाने पर ध्यान केंद्रित कर रहा है। आपकी प्रतिरक्षा कमजोर होने पर ही कोई भी बीमारी आपको घेर सकती है। ऐसे में तुलसी के पत्तों में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट गुण शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद करते हैं। इसके अलावा तुलसी में मौजूद एंटीबैक्टीरियल और एंटीवायरल गुण सर्दी, खांसी और सर्दी से भी दूर रखते हैं।

हृदय रोगीयों को लाभ-

तुलसी के पत्तों को दूध में उबालकर पीने से भी हमारा दिल स्वस्थ रहता है। रोजाना खाली पेट तुलसी वाला दूध पीने से दिल के रोगियों को बहुत लाभ होता है।

ये भी पढे -  अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर ITBP के जवानों ने किया हजारो फीट की उचाई पर योग

अस्थमा में लाभ

अगर आप सांस की समस्याओं से परेशान हैं, तो तुलसी वाला दूध पिएं। बदलते मौसम के कारण होने वाली परेशानियों के खिलाफ यह घरेलू नुस्खा बहुत प्रभावी है।

Corona Update

[cvct country-code=”IN” style=”style-2″ title=”India Covid19 Cases Update” label-total=”Total” label-deaths=”Deaths” label-recovered=”Recovered” label-active=”Active” label-recovered-per=”Recovery %” label-death-per=”Death %” bg-color=”#d70909″ font-color=”#fff”]