HomeCoronavirusविदेश यात्रा करने वालों को बड़ी राहत, अब Covaxin को भी मिलेगी...

विदेश यात्रा करने वालों को बड़ी राहत, अब Covaxin को भी मिलेगी WHO की मंजूरी

हैदराबाद स्थित भारत बायोटेक द्वारा विकसित स्वदेशी कोविड -19 वैक्सीन कोवैक्सिन को इस महीने विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की मंजूरी मिल सकती है। WHO ने अब तक फाइजर-बायोएनटेक, जॉनसन एंड जॉनसन, मॉडर्न, चीन के सिनोफार्म और ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका द्वारा विकसित COVID टीकों के आपातकालीन उपयोग को मंजूरी दी है।

Covaxin भारत के दवा नियामक द्वारा आपातकालीन उपयोग के लिए स्वीकृत छह टीकों में से एक है। राष्ट्रव्यापी टीकाकरण कार्यक्रम में कोवैक्सीन का प्रयोग किया जा रहा है। इसके अलावा भारत में कोविशील्ड और स्पुतनिक वी भी लगाए जा रहे हैं। केंद्र ने जुलाई में राज्यसभा को बताया था कि WHO की इमरजेंसी यूज लिस्ट (EUL) के लिए जरूरी सभी दस्तावेज भारत बायोटेक ने 9 जुलाई तक जमा कर दिए हैं और WHO ने समीक्षा प्रक्रिया शुरू कर दी है.

Corona vaccine

इसकी पुष्टि करते हुए, COVID वर्किंग ग्रुप के अध्यक्ष डॉ एनके अरोड़ा ने कहा, ‘इस सप्ताह के भीतर हमें उम्मीद है कि Covaxin को WHO के EUL में शामिल किया जाएगा।’ उन्होंने कहा, वैक्सीन को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान मिलनी चाहिए ताकि विदेश जाने की जरूरत न पड़े। लोगों को परेशानी न हो। साथ ही उन्होंने कहा, आने वाले दिनों में कोवैक्सिन का उत्पादन और बढ़ेगा। कोविशील्ड का उत्पादन भी बढ़ रहा है।

आपको बता दें, भारत ने 75 करोड़ वैक्सीन डोज का रिकॉर्ड बनाया है, जो अपने आप में एक बड़ी उपलब्धि है। भारत में 10 फीसदी से ज्यादा लोग यानी करीब 18 करोड़ लोग दोनों डोज ले चुके हैं. जबकि 30 फीसदी से ज्यादा यानी 56.5 करोड़ से ज्यादा ने सिंगल डोज लिया है. इस रिकॉर्ड के लिए WHO ने भारत को बधाई भी दी है।