उत्तराखंड कांग्रेस के उपाध्यक्ष सूर्यकांत धम्साना का विवादास्पद बयान – भगवान कृष्ण ने कोरोना वायरस भेजा है

Must Try

कोरोना संक्रमण के बीच उत्तराखंड कांग्रेस के उपाध्यक्ष सूर्यकांत धम्साना ने एक विवादित बयान दिया है। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस भगवान कृष्ण द्वारा भेजा गया है। चारधाम यात्रा की शुरुआत के फैसले पर सवाल उठाते हुए, कांग्रेस नेता ने कहा कि यात्रा को लेकर व्यापारियों में एक डर है। वह कोरोना संक्रमण से डर रहे है।

एक टीवी चैनल पर बहस के दौरान सूर्यकांत धस्माना ने कहा कि ‘क’ कृष्णा है और ‘क’ कोरोना है। कांग्रेस नेता के बयान की सोशल मीडिया में काफी आलोचना हो रही है।

suryakant-dhasmana

बयान पर विवाद बढ़ता देख धस्माना ने आज सफाई दी है। उन्होंने कहा, ‘मैं हर जगह कृष्ण का उदाहरण देता हूं और मैंने कहा कि क्या भगवान की इच्छा के बिना कोरोना आया था? इस दुनिया में जो कुछ भी होता है वह ईश्वर की निगरानी में होता है।’

धस्माना ने कहा, ‘मैंने ये कहा था कि भगवान श्रीकृष्ण ने कहा है कि मैं ही इस सृष्टि का रचयिता, मैं ही पालनकर्ता और मैं ही संहारकर्ता हूं। मैं गीता का ही उदाहरण देता हूं। मैंने अपने जीवन में गीता को उतार रखा है, इसलिए उसी का उदाहरण हमेशा देता हूं। इसी तरह कहीं कोरोना का संदर्भ आ गया होगा। मेरी बात को तोड़-मरोड़ कर पेश किया गया।’

ये भी पढे -  England में कोरोना का कहर, 55 हजार से अधिक नए मामले, अमेरिका और फ्रांस में नए Strain के मामले पाए गए
ये भी पढे -  21 August 2020 Love and Business Rashifal (Horoscope in Hindi)- शुक्रवार 21 अगस्त लव लाइफ और बिज़नस राशिफल

भाजपा ने की माफी की मांग

भाजपा उत्तराखंड प्रदेश के उपाध्यक्ष डॉ॰ देवेंद्र भसीन ने कहा कि कांग्रेस नेता का यह कथन कि भगवान कृष्ण द्वारा भेजा गया और ‘के टू कृष्ण और के टू कारेना’ घोर आपत्तिजनक है। यह कांग्रेस नेताओं के मानसिक दिवालियापन का प्रतीक है। उन्होंने कहा कि भगवान कृष्ण ने धर्म की रक्षा के लिए अवतार लिया और विधर्मी राक्षसों का विनाश किया। कोरोना आज के युग का सबसे बड़ा राक्षस है, जिसके पिता को उस देश के रूप में वर्णित किया जा रहा है जहां से कांग्रेस पैसे लेती है और गहराई से अनुकूल है। भारत समेत पूरी दुनिया पूरी ताकत से इस कोरोना के खिलाफ लड़ रही है। लेकिन कांग्रेस कोरोना के खिलाफ लड़ाई को लगातार बाधित कर रही है।

ये भी पढे -  अशोक गहलोत पक्ष के 109 विधायकों के लिए, होटल में है 120 कमरे बुक, दैनिक खर्च 12 लाख रुपये है, चार्टर मूवमेंट में हर घंटे 3 लाख रुपये खर्च
ये भी पढे -  कोरोना ने अब तक के सभी रिकॉर्ड तोड़े, 24 घंटे में मिले 45720 नए पॉज़िटिव मामले, 1129 लोगों की हुयी मौत

उन्होंने कहा कि यह स्पष्ट है कि कांग्रेस की मंशा क्या है। यही कारण है कि हम कहते हैं कि कांग्रेस कोरोना से अधिक खतरनाक है। इन परिस्थितियों में, कोरोना को ‘क’ और कांग्रेस को ‘क’ कहना उचित होगा।

कांग्रेस का यह बयान बेहद आपत्तिजनक और निंदनीय है। यह करोड़ों लोगों की भावनाओं को भी आहत कर रहा है।

Loading...
- Advertisement -
- Advertisement -

Latest Recipes

- Advertisement -

More Recipes Like This

- Advertisement -
Khabari Londa