कोरोना वायरस संक्रमण पर प्रभावी नियंत्रण के लिए पूरे देश में जिस ‘भीलवाड़ा मॉडल’ पर चर्चा की गई थी, वहाँ एक साथ 16 लोग कोरोना पॉजिटिव, जानिए कैसे

Must Try

कोरोना वायरस संक्रमण के प्रभावी नियंत्रण के लिए ‘भीलवाड़ा मॉडल’ पर देश भर में चर्चा हुई, लेकिन अब एक शादी में कई लोगों की जान पर बन आई है। अब तक इस शादी में शामिल 16 लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि की गई है, जिनमें से एक की मौत हो गई है जबकि 58 लोगो को क्वारंटाइन किया गया है।

जिला प्रशासन ने न केवल परिवार के खिलाफ मामला दर्ज किया है, बल्कि तीन दिनों में छह लाख रुपये से अधिक का जुर्माना भरने को भी कहा है। दरअसल, घीसूलाल राठी के बेटे रिजुल की शादी 13 जून को शहर के भदादा इलाके में हुई थी। जब परिवार ने प्रशासन से मंजूरी ली, तो उन्हें 50 से अधिक लोगों को ना बुलाने की शर्त पर अनुमति दी गई थी, लेकिन शादी में शामिल होने वाले लोगों की संख्या 50 से अधिक थी।

ये भी पढे -  अब तक देश मे रिकॉर्ड तोड़ 16,922 मामले, 24 घंटे में ठीक होने वालों की संख्या 13 हजार
bhilwada-model

सबसे बड़ी समस्या तब शुरू हुई जब दूल्हे सहित 16 लोग बाद में कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए। इनमें से एक संक्रमित की मौत हो गई है। उल्लेखनीय है कि कोरोना वायरस संक्रमण पर प्रभावी नियंत्रण के लिए पूरे देश में ‘भीलवाड़ा मॉडल’ पर चर्चा की गई थी। कड़ा रुख अपनाते हुए जिला प्रशासन ने परिवार के खिलाफ आपदा प्रबंधन अधिनियम की धारा 51 और भारतीय दंड संहिता की संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया।

ये भी पढे -  5 साल से कम उम्र के बच्चों में कोरोना के 10 से 100 गुना अधिक वायरस हैं: अध्ययन रिपोर्ट

जिला मजिस्ट्रेट राजेंद्र भट्ट द्वारा जारी आदेश के अनुसार, 50 से अधिक लोगों को शादी में आमंत्रित किया गया था और कोरोना वायरस संक्रमण (सामाजिक दूरी, मास्क पहनना) की रोकथाम के नियमों का भी विवाह कार्यक्रम के दौरान पालन नहीं किया गया था। इस शादी में शामिल लोगों में संक्रमण का पहला मामला 19 जून को सामने आया था, जबकि 16 लोग अब तक संक्रमित हो चुके हैं, जिनमें से एक की मौत भी हो चुकी है। अधिक लोगों के संक्रमित होने की संभावना है।

ये भी पढे -  5 साल से कम उम्र के बच्चों में कोरोना के 10 से 100 गुना अधिक वायरस हैं: अध्ययन रिपोर्ट
India-Coronavirus

आदेश के अनुसार, इस शादी में शामिल 15 लोग संक्रमित अस्पताल में भर्ती हैं और 58 लोग अभी भी अलगाव में हैं। इस मामले में, राज्य सरकार ने क्वारंटाइन वार्ड, क्वारंटाइन केंद्र सुविधा, भोजन, जांच, परिवहन और एम्बुलेंस आदि के प्रमुख में लगभग 6,26,000 रुपये का राजस्व नुकसान उठाया है। तहसीलदार से कहा गया है कि वह यह राशि तीन दिन में वसूल कर मुख्यमंत्री सहायता कोष में जमा करवाएं।

ये भी पढे -  दिल्ली कोरोना लॉकडाउन: राजधानी दिल्ली में बिगड़े हालात, सीएम केजरीवाल ने की अमित शाह से मुलाकात; फिर से लॉकडाउन हो सकता है
Loading...
- Advertisement -
- Advertisement -

Latest Recipes

ये भी पढे -  कोरोना के खिलाफ झ्ंग लड़ने वाले डॉक्टरों को 3 महीने से नहीं मिला वेतन है,

28 February 2021 Love and Business Rashifal (Horoscope in Hindi)- रविवार 28 फ़रवरी 2021, लव लाइफ और बिज़नस राशिफल

- Advertisement -

More Recipes Like This

- Advertisement -
Khabari Londa