केंद्रीय मंत्री रविशंकर ने राहुल गांधी पर सादा निशाना

Must Try

कोरोना महामारी और लॉकडाउन के बीच, इंडिया टुडे ग्रुप ई-एजेंडा आजतक कार्यक्रम का आयोजन कर रहा है। आज मोदी सरकार के 17 मंत्री ई-एजेंडे आजतक के तीसरे एपिसोड hi जन भाई जान ’के मंच पर भाग लेंगे।

जिसमें कोरोना की चुनौतियों और सरकार की कार्ययोजना पर दिन भर चर्चा की जाएगी। ई-एजेंडा आजतक कार्यक्रम केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ से सुबह 10 बजे शुरू होगा।

इसके बाद, मोदी सरकार के बाकी मंत्री कोरोना की स्थिति और परिस्थितियों पर मंथन करेंगे। ई-एजेंडा आजतक से जुड़ी खबरों और अपडेट के लिए इस पेज को ताजा करते रहें कानून और सूचना और प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने आरोग्य सेतु पर उठाए जा रहे सवालों का जवाब दिया है।

ये भी पढे -  तनिष्क ने नीना गुप्ता सहित इन 4 अभिनेत्रियों के साथ नया विज्ञापन जारी किया, इस बार यह संदेश दिया
ये भी पढे -  ऋषिकेश मुखर्जी ने शोमैन राज कपूर से प्रेरित होकर शो बनाया, जिसमें दो बड़े सुपरस्टार एक साथ दिखाई दिए

राहुल गांधी की तकनीकी समझ पर सवाल उठाते हुए, पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष, जिन्होंने इसे गोपनीयता के लिए खतरा बताया, ने कहा कि इस पर चर्चा की जानी चाहिए।

प्रसाद ने कहा कि 9.5 करोड़ लोगों ने आरोग्य सेतु को डाउनलोड किया है। किसी का नाम पता नहीं। सभी डेटा इंस्क्रिप्ट है। सामान्य डेटा स्वचालित रूप से 30 दिनों में और 60 दिनों में रोगी डेटा हटा दिया जाता है।

यह लोगों के हित में है, यह राष्ट्र के हित में है, फिर भी अगर किसी को समस्या है, तो उसे डाउनलोड नहीं करना चाहिए कानून, आईटी और संचार मंत्री रविशंकर प्रसाद सिंह ने भी आज मोदी सरकार में ई-एजेंडा आजतक की तीसरी कड़ी B जन आशीर्वाद जहाँ ’के मंच पर भाग लिया।

ये भी पढे -  दिल्ली कोरोना लॉकडाउन: राजधानी दिल्ली में बिगड़े हालात, सीएम केजरीवाल ने की अमित शाह से मुलाकात; फिर से लॉकडाउन हो सकता है

उन्होंने कहा कि यह हमारे लिए चुनौतीपूर्ण समय है और यह एक महामारी है जिसके लिए हमारे पास कोई दवा नहीं है। हम समझते हैं कि जनता को तालेबंदी की समस्या है आजतक के विशेष कार्यक्रम ‘ई एजेंडा जान भी,

जहान भी’ में केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने किसानों की समस्या को ठीक करने के लिए कर्ज माफी की बात नहीं कही। उन्होंने कहा कि पूर्व में भी कई बार कई सरकारों की ओर से किसानों की कर्जमाफी की गई है, लेकिन मैं मानता हूं कि कर्ज माफी किसानों की समस्याओं का इलाज नहीं है।

ये भी पढे -  यूजर डाटा प्राइवेसी खतरे के कारण हुए चाइनीज app बैन
Loading...
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest Recipes

- Advertisement -

More Recipes Like This

- Advertisement -
Khabari Londa