HomeCoronavirusफाइजर से बेहतर है मॉडर्ना की कोरोना वैक्सीन स्टडी में हुआ खुलासा

फाइजर से बेहतर है मॉडर्ना की कोरोना वैक्सीन स्टडी में हुआ खुलासा

मॉडर्ना की कोविड वैक्सीन फाइजर-बायोनटेक की कोरोना वैक्सीन से दोगुनी एंटीबॉडी का उत्पादन करती है। टीकाकरण के बाद लोगों में बनने वाली एंटीबॉडी पर किए गए नए शोध में यह दावा किया गया है।

बेल्जियम के एक बड़े अस्पताल में 2500 लोगों पर किए गए शोध में पाया गया कि जो लोग वैक्सीन मिलने से पहले कोरोना से संक्रमित नहीं थे, उनमें फाइजर वैक्सीन पाने वालों की तुलना में आधुनिक वैक्सीन की दोनों खुराक लेने के बाद अधिक एंटीबॉडीज थे। शोध के नतीजे सोमवार को अमेरिकन मेडिकल एसोसिएशन के जर्नल में प्रकाशित हुए।

शोध के अनुसार, मॉडर्ना वैक्सीन में सक्रिय तत्व 100 माइक्रोग्राम पाए गए, जबकि फाइजर-बायोनटेक वैक्सीन में 30 माइक्रोग्राम थे।

आपको बता दें कि इसी साल जुलाई में मॉडर्ना को भारत में वैक्सीन आयात करने की इजाजत दी गई थी। मॉडर्ना को आपातकालीन स्थितियों में प्रतिबंधित उपयोग के लिए यह अनुमति मिली है। मॉडर्ना का टीका 19 वर्ष या उससे अधिक उम्र के लोगों को दिया जा सकता है।

Coronavirus vaccine

वहीं, फाइजर की वैक्सीन से न्यूजीलैंड में पहली मौत दर्ज की गई है। न्यूजीलैंड के स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि हृदय की मांसपेशियों में सूजन के कारण एक महिला को दुर्लभ दुष्प्रभाव का सामना करना पड़ा।